कर्मा कोट्स

कर्मा कोट्स | Karma Quotes in Hindi

अपना समय यह सोच कर बर्बाद ना
करो की दुसरो ने तुम्हारे साथ क्या बुरा किया,
तुम्हारी जगह कर्मा को उनको जवाब देने दो |

अगर आप किसी और के साथ गलत
करने जा रहे हो तो अपनी
बारी का इंतज़ार भी जरूर करना।

“शर्म करने के बजाय,
कर्म में लग जाइये I”

ये जरूरी तो नहीं कि इंसान हर रोज मंदिर जाए,
बल्कि कर्म ऐसे होने चाहिए,
की इंसान जहाँ भी जाए,
मंदिर वहीं बन जाए।

कर्म और प्रेम में यह अंतर है
कर्म किया जाता है
और प्रेम अपने आप हो
जाता है..!!

जो विद्याएं# कर्म का सम्पादन करती है,
उन्ही का फल #दृष्टिगोचर होता है.

आपके कर्मों की गूँज शब्दों
की गूँज से भी ऊंची होती है।

“समय की कद्र करने वाले हमेशा
अपने कर्म में व्यस्त रहते है I”

ताका झांकी खुद के कर्मों पर कर ऐ इंसान
दूसरों के कर्मों का बहीखाता
समय को ही संभालने दे

हर किसी को #कर्म भोगना पड़ता है
अच्छा या बुरा #कर्म की
पहचान समय ख़ुद देता है।

कर्म एक ऐसा ढाबा है,
जहाँ हमें ऑर्डर करने की जरूरत नहीं पड़ती।
हमने जो पकाया होता है, हमें वही मिलता है।

Karma Quotes in Hindi
Image: Karma Quotes in Hindi

“जो अपने कर्म में विश्वास रखते है,
वो नसीब का रोना नहीं रोते II”

भगवान से ज्यादा कर्मों से डरिए,
एक बार भगवान तो माफ़ कर सकता है,
लेकिन कर्म नहीं।

प्रशंसा और अपमान
मनुष्य द्वारा अर्जित की गई
कर्मा से निर्धारित होता है..!!

कर्म का सब खेल है,
यह लौट कर तो आएगा,
जो आज तुझे रुला रहा,
कल कोई और उसे रुलाएगा।

कर्म ही धर्म का #दर्शन है.

“कर्म करो फल की चिंता मत करो,
मगर कर्म वही करो जिसका संभावित
फल तुम्हारी चिंता का कारण न बने I “

इंसान भाग्यशाली नहीं
होता कभी भी जन्म से,
उसका भाग्य बनता है कर्म से।

मत करो बात मजहब या धर्म की
मैं कर्मा का फैन हूं बात करूंगा कर्म की..!!

कोई मेरा बुरा करे
वो उसका कर्म है,
में किसी का बुरा न करू
वो मेरा धर्म है।

कर्म पथ पर चलते रहना ही
तो जीवन हमारा है
रुक जाएंगे जिस दिन
हम समझो अंत हमारा है

जैसे एक बछड़ा हजार गायों की भीड़
में भी अपनी माँ को ढून्ढ लेता है,
वैसे ही कर्मा करोड़ों लोगों में
अपने करता को ढून्ढ ही लेता है।

“कर्म के प्रति आपका पूर्ण समर्पण ही
आपके मन के अनुसार फल दे सकता है I”

तुम जो भी कर्म प्रेम और सेवा की भावना से करते हो,
वह तुम्हें परमात्मा की ओर ले जाता है।
जिस कर्म में घृणा छिपी होती है,
वह परमात्मा से दूर ले जाता है।

जो इंसान कर्म पर भरोसा करता है
वो भाग्य की बातों से
परेशान नहीं होता है..!!

हर किसी को कर्म भोगना पड़ता है
अच्छा या बुरा कर्म की
पहचान समय ख़ुद देता है।

बहुत ताहजुब नही होता मुझे मेरे
हालातो से किसीको जरूर
तड़पाया होगा तभी ये हाल है

यदि आपका कर्म अच्छा है,
तो आपका भाग्य भी
आपके पक्ष में होगा।

“सोच – समझ कर ही कर्म करें क्योंकि
कर्म अच्छा हो या बुरा
कभी खाली नहीं जाता II”

कर्मा ही देगा ज्ञान कर्मा ही
दिलाएंगे सम्मान
जिसने लिया कर्मा को जान
उसकी जिंदगी है महान..!!

साहिब यह कर्मा है
सुद समेत देगा,
किसी का ब्याज भी नहीं रखेगा।

माना कि कर्मों की चक्की धीरे चलती है,
पर पीसती भी बहुत बारीक है।

“आप कर्म करते रहिये,
ज़िंदगी आपको खूबसूरत मौके
प्रदान करती रहेगी I”

तकदीर और नसीब का रोना मत रो इंसान
यह सब तुम्हारे कर्मों पर निर्भर करता है..!!

कर्मा’ और ‘प्रेम’ में सबसे बड़ा अंतर यह है
कि- प्रेम जितना दिया जाये
उतना लौट कर कभी नहीं आता…

अगर आप हर किसी के
प्रति सकारात्मक सोच रखते हैं,
तो वापिस आपको भी
ऐसा ही मिलने वाला है।”

“कर्म ही जीवन है,
और मनुष्य का सबसे
बड़ा कर्तव्य भी I”

जीवन मिलना यह भाग्य पर निर्भर है,
मृत्यु होना समय पर निर्भर है,
किन्तु,
मृत्यु के बाद भी लोगो के दिलो में रहना,
अपने कर्मो पर निर्भर है।

तेरे किए की सजा से तू
कब तक बचता फिरेगा
जैसे मैं तड़प रहा हूं
कभी तू भी यही तड़पता मिलेगा..!!

कर्म दो दिशाओं में चलता है।
यदि हम सदाचार से काम लेते हैं,
तो हम जो बीज बोते हैं,
उसका परिणाम अच्छा ही होगा।
यदि हम गैर-पुण्य कार्य करते हैं,
तो दुष्परिणाम भुगतने पड़ते हैं।

“भोगना चाहते है तो अच्छे कर्म करिये,
बुरे कर्मों की वजह से तो भुगतना पड़ता है I”

कर्म से ही पहचान होती है,
इंसानों की दुनिया में,
अच्छे कपड़े तो बेजुबान
पुतलो को भी पहनाया जाता है,
दुकानों में।

हर वो चीज एक शिक्षक है
जिससे आपको कुछ
सीखने के लिए मिलता है..!!

Karma Quotes in Hindi

तुम्हारे भीतर से जितनी घृणा निकलती है,
उतनी ही वापिस आती है।

“कर्म वैसे कीजिए की
आप किसी के काम आ सकें I”

इंसानियत दिल में होती है,
हैसियत में नहीं,
ऊपरवाला कर्म देखता है,
वसीयत नहीं।

किसी वस्तु या व्यक्ति को
चाहने मात्र से वह प्राप्त नहीं होगी
उस दिशा में कर्म के
सिद्धांत को अपनाना होगा..!!

रिश्तो का सौदा कर मत मुस्कुरा,
रोयेगा तू भी जरा कर्मा तो आने दे।

कर्म का एक प्राकृतिक नियम है,
जो लोग दूसरों को चोट पहुंचाएंगे वो
अंत में टूट जाएंगे और अकेले हो जाएंगे।

“परिभाषा में अगर फस जाए कभी
अच्छे और बुरे कर्मों की,
तो ऐतबार अपने मकसद पर कर लेना I”

जो आपके साथ बुरे है,
उनके साथ ना अच्छे रहो,
ना बुरे,
सिर्फ उनसे दूर रहो।

ऊपर वाले की अदालत में
आपके कर्म से ही आपकी पहचान होती है
नाम से तो बस पुकारा जाता है !

किसी को डर है कि
भगवान देख रहा है,
और किसी को भरोसा है कि
भगवान देख रहा है।

आपको वही मिलता है
जो आप देते हैं,
चाहे वह बुरा हो या अच्छा।

“अच्छे कर्म कर के
आपको ज्यादा कुछ मिले ना मिले,
लेकिन रात की नींद सुकून भरी होगी II”

जीवन आपके बहस करने और
लड़ने के लिए बहुत कम है
अपने कर्म को महत्व दें और
अपने सिर्फ सिर को गर्व से
हमेशा ऊपर रखे!

Read Also: जिंदगी बदलने वाले सुविचार

जिसे पीठ दिखा के गया था
वही तेरे सामने आयेगा,
दुनिया गोल है प्यारे
कहा भाग के जायेगा।

Karma एक बूमरैंग जैसा ही है,
वापस उस व्यक्ति के पास लौटता है
जो इसे फेंकता है।

“दौलत वही है
जो आप अच्छे कर्मों की
बदौलत कमाते है II”

दान धर्म करना,
इस पूरी दुनिया का
सबसे बड़ा कर्म है।

इंसानियत और मेहनत
से ऊँचे कर्म होते हैं
और इन कर्मों से
मनचाही सफलता प्राप्त होती है !

ये कर्मा है जनाब
नहीं रखता कोई उधार
वक्त आनें पर देता है
सबकी चर्बी उतार।

जो #काम आ पड़े, #साधना
समझ कर पूरा करो।

प्रत्येक अपराध और हर दयालुता से,
हम अपने भविष्य को जन्म देते हैं।

“कर्महीन मनुष्य जानवर
के समान होते है II”

भाग्य से जीतनी ज्यादा उम्मीद करोगे,
वो उतना ही ज्यादा निराश करेगा,
और कर्म पे जितना जोर दोगे,
वो हमेशा उम्मीद से भी ज्यादा मिलेगा।

कर्म का ही सारा खेल है
यह लौटकर जरूर आता है
जैसे आप आज किसी को रुला रहे हैं
कोई और कल तुम्हें भी रुलाएगा!

शायद हमारे कर्म बुरे होंगे
तभी तो ये सब सहना पड रहा है
चलो अब ये भी सही है,
कर लेते है प्रायश्चित्त।

अपने #कर्म से दोस्ती कर लीजिये,
आप बहुत #फायदे में रहेंगे.

अगर किसी ने आपका नुक्सान किया है
तो आप उसका नुक्सान नहीं कर सकते।
क्योंकि आप भी वैसे ही भुगतोगे जैसे वो भुगतेंगे।

आपके कर्म ही आपकी पहचान है,
वरना एक नाम के हजारों इंसान है।

ना तो बुरे कर्म अच्छे कर्म को काट सकते हैं
ना ही अच्छे कर्म बुरे कर्म को काट सकते हैं
जो जैसा करेगा उसे वैसा ही भुगतना पड़ेगा !

कर्म वो आइना है जो
हमारा असली चेहरा
हमें दिखा देता है।

आज आप प्रकृति का विनाश करेगें ,
कल ये आपकी सभ्यता का विध्वंस कर देगी ।

किसी और के कर्म के साथ खुद को
शामिल करते समय आपको
बहुत सावधान रहना होगा।

“सबको मिलता उतना जितना तकदीर दे,
मगर आप कर्म के रास्ते
अपनी तकदीर बदल सकते होI”

क्या मिलना है यह सब कर्म का लिखा है
और क्या लेना है यह सब धर्म का लिखा है!

कर्म अपने सबको याद होतें है,
नहीं तो गंगा किनारे
यूं ही भीड़ नही होती।

कर्म जीवन का मुख्य विषय हैं,
शब्दों का हेर फेर भले ही पकड़ नहीं आता हैं,
पर सच में, हर कोई कर्म से पहचाना जाता हैं ।

“अच्छे कर्मों में निवेश कीजिए,
जो आपको वापसी में मिलेगा वो
आपने उम्मीद से कहीं ज्यादा होगा I”

जो दूसरे को धोखा देते है,
किस्मत उन्हें हर रोज धोखा देती है।

ना धर्म और ना ही जात हो तुम
मिट्टी में मिले तो राख हो तुम
अपने कर्मों की बस एक किताब हो तुम !

Karma Quotes in Hindi

किसी के साथ गलत करके,
अपनी बारी का
इंतजार जरुर करना।

भलाई# का एक छोटा सा
काम #हजारों प्रार्थनाओं से बढकर है ।

कर्म आखिरकार सामने आता है।
जैसा बोओगे वैसा ही काटोगे।
जल्द ही या बाद में, ब्रह्मांड आपको वो
परोस देगा जिसके आप हकदार हैं।

“कर्म ही मनुष्य को प्राप्त इकलौता ब्रह्मास्त्र है,
जिससे वह अपने मनोरथ
की सीधी कर सकता है I”

अगर किसी के लिए काँटे बिछाओगे तो
वापस काँटे ही मिलते हैं
और किसी के लिए फूल बिछाओगे तो
आपको वापस फूल ही मिलेंगे।

कर्म का फल हर एक प्राणी
को भोगना ही पड़ता है
क्योंकि जैसा बीज बोओगे
वैसा ही फसल पाओगे!

अपने किये हर अच्छे-बुरे कर्मो के
फल से कोई नहीं बचा आजतक
तो तुम कैसे बच सकते हो।

उच्च #कर्म महान
मस्तिष्क# को सूचित करते हैं ।

आपका कर्म अच्छा होना चाहिए,
और बाकी सब अच्छा होगा।
आपके अच्छे कर्म आपके बुरे भाग्य
पर हमेशा विजय प्राप्त करेंगे।

Read Also: राधा कृष्णा कोट्स

“स्थापित है समाज में मापदंप अच्छे – बुरे
कर्मों का, मगर आप चयन उन्हीं कर्मों
का करें जो आपके चरित्र की परिभाषा हो I”

अच्छी सोच रखोगे तो सब अच्छा होगा,
अगर बुरी सोच रखोगे तो सब बुरा ही होगा,
इसलिए सकारात्मक रहिए,
यही कर्म है।

हाथ की रेखा तो बस एक बहाना है
जीवन की रेखा तो कर्मों से लिखी जाती है !

हमारे कर्म का हिसाब ना पूछो साहब,
हमनें तो उन्हें भी गले लगाया,
जिन्होंने हमारा बुरा चाहा।

जो जैसा करता है,
वैसा भरता है.

लोग जो करते हैं
उसके लिए भुगतान करते हैं,
कभी कभी उस से भी अधिक।

“अगर आप कर्म पूरी ईमानदारी से करेंगे,
तो आपको परिणाम भी बिना
बेईमानी के ही मिलेगी I”

अच्छा हो या बुरा हो पर कर्मों
का फल जरूर मिलता है,
किसी को जल्दी मिलता है,
तो किसी को थोड़े देर से मिलता है।

यह कर्म है साहब आज तक
इससे कोई बच नहीं पाया है
यह अपने वक्त का पहिया घुमाकर
सबको अपने अपने कर्मों का फल देता है!

जिंदगी का एक ही उसूल है,
करो यहां और सहों यहां।

हर व्यक्ति# को उसके कर्म करने की
पूरी #आज़ादी है लेकिन कर्म के
परिणामों# में चुनाव, उसके हाथ में नही।

लोग उनके पापों के लिए
दंडित नहीं होते,
बल्कि पापों द्वारा होते हैं।

“अपने काम को अपनी प्रतिष्ठा समझिये,
फिर आपके काम में गलती की
गुंजाईश नहीं रह जायेगी I”

उन्हीं की किस्मत अच्छी होती हैं,
जो कर्म अच्छे करते हैं।

इस अस्थिर जिंदगी में सिर्फ कर्म ही स्थिर है
और कर्म पर ही हमारा भविष्य स्थित है !

अपने कर्म से दोस्ती कर लीजिये,
आप बहुत फायदे में रहेंगे।

जिस दिन आप अपने लिए बोलना सुरु करेंगे,
दुनिया आपके पीछे से हटकर
आपके सामने खड़ी हो जाएगी।।

“हमेशा याद रखिये आप आपने बुरे कर्मों
के फल से नहीं भाग पाएंगे I”

भाग्य पर उम्मीद करने से
निराशा हाथ लगती है
और करने से परिणाम
उम्मीदों से दुगना मिलते हैं!

सफलता हमारा परिचय
दुनियां को करवाती है
और असफलता हमें
दुनियां का परिचय करवाती है ।

कर्म ही कर्म है। कर्म जीवन में है।
आप गलत कर्म करते हैं,
तो आप गलत कर्म ही वापिस पाते हैं।

“आपके कर्मों का चयन ही
आपके जीवन की
रूप – रेखा तैयार करती है I”

कभी अपने भूखे ईमान को
निवाले इज्जत के खिलाओ
बूंद बूंद बेज्जती से
चरित्र का घड़ा जल्दी भर जाता है !

कर्म वो #आइना है जो हमारा
असली चेहरा# हमें दिखा देता है।

हम अपने कर्मफल से बच नहीं सकते।
हमारे कर्म ही आधार हैं
जिस पर हम खड़े हैं।

“आपके अच्छे कर्मों का
फल शायद आप बाँट भी सकें,
बुरे कर्मों का फल
आपको स्वयं भुगतना होगा I”

किसी ने तकलीफ दिया है तो,
उस पर ध्यान मत दो,
जितना आप उसी बारे में सोचोगे तो तकलीफ ही होगी,
अगर उस पर ध्यान न देकर उससे कुछ सीखते हैं तो,
आपको जिंदगी में आगे ले जाएगी।

हमारे भाग्य की रेखा
हमारे कर्मों के द्वारा लिखी जाती है!

अपने कर्म अच्छे करो,
वरना आपके कर्म कभी
आपको मुक्ति नहीं देगा।

अपने से हो सके,
वह काम #दुसरे से
नहीं करवाना चाहिए.

कर्म केवल परेशानियों के बारे में नहीं है,
बल्कि उनपर विजय पाने के बारे में भी है।

“कोई भी धर्म कभी भी
अच्छे कर्म की बाधा नहीं बनता,
फिर भी चुनना पड़ जाय
कभी तो कर्म ही चुनें I”

फिक्र मत करना,
तुम्हारे गुनाह को
तुम्हारे कर्म ढूंढ ही लेंगे।

तकलीफ किसी को इतनी
ही दो कि माफी मिल सके
क्योंकि इंसान तो माफी दे सकता है
परंतु आपके कर्म नहीं !

आपके अच्छे कर्मों की फल प्राप्ति,
आपको अंतिम समय पर ही होती हैं।

अच्छे लोगों की इज्जत कभी कम नहीं होती
सोने के सौ टुकड़े करो ,
फिर भी कीमत कम नहीं होती

समस्याएँ हों या फिर सफलताएँ,
दोनों ही हमारे कर्मों के परिणाम हैं।

Read Also: जीवन में संघर्ष पर प्रेरक विचार

“सच्चा कर्म मनुष्य की कठिन परीक्षा लेता है,
उत्तीर्ण/(सफल) तभी होंगे
जब विश्वास अडिग हो I”

Karma Quotes in Hindi

सफलता चाहते हो तो ईमानदारी से मेहनत करना,
सफलता जरूर मिलेगी,
अगर किसी को कष्ट देकर सफलता पाने की कोशिश करोगे,
तो सफलता कभी नहीं मिलेगी।

दिलों में खोट है,
जुबान से प्यार करते है,
बहुत से लोग दुनिया में
यही व्यापार करते है।

आपकी #कड़ी मेहनत
बेकार# नहीं जाती है।

किस्मत भी उन्हीं का साथ देती है
जिनके कर्म मजबूत होते हैं।

“कभी – कभी भुगतना पड़ जाता है
दूसरों के कर्मों का फल भी,
समझ लेना की कोई कर्ज था
जो आपने उतार दिया I”

पक्षी जिंदा रहने के लिए चींटी को खाती है
और जब पक्षी मर जाते हैं तब चींटी उन्हें खाती है.
वैसे ही एक पेड़ से हजारों माचिस की तिल्ली बनाई जाती है,
लेकिन एक ही माचिस की तिल्ली काफी होती है,
हजारों पेड़ को जलाने के लिए।

ईश्वर से नहीं अपने कर्म से डरो
क्योंकि कर्म कभी हमे माफ नहीं
करता है ईश्वर कर देते है!

ऐ इंसान
तेरी हालत ही बता रही है,
के तेरे कर्म कितने अच्छे थे।

कर्मो से डरिये ईश्वर से नहीं…
ईश्वर #माफ़ कर देता है #कर्म नहीं ।

karma वो आइना है
जो हमें हमारा असली
चेहरा दिखा देता है।

“अवशेष मात्र भी बचता नहीं है किसी का यहाँ,
बची रहती है
तो बस सबके कर्मो की कहानियां I”

जैसा काम करोगे वैसा ही फल मिलता है,
इसलिए अपनी सोच को अच्छा रखें,
किसी को भी अच्छा बोले,
अच्छा काम करें और अच्छे लोगों के साथ रहे।

जो व्यक्ति सुख दुख की आशा छोड़कर
कर्म पथ पर चलते रहता है
वह सफलता को अवश्य पाता है !

कर्म ही पूजा है
और कर्तव्य- पालन भक्ति है।

हर किसी को आज़ादी है
कि वो जो चाहे वो कर्म करे,
लेकिन उन कर्मों के
परिणाम उसके हाथ में नहीं।

“कर्म अच्छा है
या बुरा इस बात का फैसला आप नहीं,
कर्म का मकसद तय करते है I”

हर किसी को आजादी है,
अपनी जिंदगी अपनी मर्जी से जीने का,
पर आजादी में अपने कर्म को मत भूलना,
याद रखना एक गलत काम,
आप की आजादी छीन सकता है।

भाग्य के संयोग से कुछ नहीं होता
आप अपने कर्मों से
अपना भाग्य खुद बनाते हैं!

कर्म से ही विजय है
भाग्य भी कर्म पर निर्भर है
कर्म है तो सफलता तय है।

मनुष्य# जब
असाधारण कार्य# कर दिखाता है,
वह यश का #कारण बन जाता हैं

अगर आप दुनिया के लिए कुछ अच्छा करोगे
तो समय के साथ साथ दुनिया से भी
आपको कुछ अच्छा मिलेगा। यही कर्मा है।

जैसा आप सोचोगे,बोलोगे,और काम करोगे,
वैसा ही आपको वापस मिलेगा,
इसलिए अच्छा सोचो,
अच्छा बोलो और अच्छा काम करो,
यही कर्म है।

कर्म का कोई मेनू नहीं है
आपको वह मिलता है
जिसके आप हकदार हैं!

वह किनारे पर बैठा
देखता रहा मंजर लहरों का ।
बहुत सुकून था
उन लहरों के शोर में !

इस विश्वास से जीने की कोशिश
करो कि karma ही सब कुछ है।
जो कर्म आप करोगे वही
आपको भोगना भी पड़ेगा।

कर्म के द्वारा मौन रहते हुए,
चींटी से अच्छा उपदेश कोई
दूसरा नहीं दे सकता।

कर्म से आदमी ऊँचा नीचा होता है
प्रभु सबको उसके कर्मफल से
ऊँचा पद व मान मर्यादा देते हैं!

कर्म तेरे अच्छे हैं तो
किस्मत तेरी दासी है,
नियत तेरी अच्छी है तो
घर मैं मथुरा काशी है।

कर्म कभी न कभी
जरूर सामने आता है।
जैसा करोगे, वैसा ही भरोगे।

कर्म है जनाब,
जो जैसा करेगा वह
वैसा ही भरेगा।

तुम लाशें बिछाकर जन्नत की
सीढ़ियां बनाने में लगे हो और वहां
कर्म तुम्हारा तुम्हारी चीता सजाए बैठा है !

प्यार से बड़ा कोई धर्म नहीं होता ।
परोपकार से बड़ा कोई कर्म नहीं होता ।।

आपके द्वारा किए गए पाप अपना एक नया
नर्क बनाते हैं और आपके द्वारा किए
गए पुण्य एक नया स्वर्ग बनाते हैं।

Read Also: संघर्ष पर सुविचार

किसी को धोखा देकर खुश मत होना,
कर्म है जो सब का हिसाब रखता है।

आज कुछ अच्छा करो और भविष्य में
तुम्हें कुछ अच्छा भी मिलेगा
कुछ अच्छा करो और कुछ अच्छा पाओ!

जिंदगी में जो कर्म करते हैं,
अच्छा या गलत,
उससे ही भविष्य का जन्म होता है।

जिन ज़ख्मों से हम अंजान थे ,
वो ज़ख्म दे गए ना जो दर्द हमने सहा था ,
वो तुम भी सह गए ना ? #कर्मा

बदला लेने के लिए मत सोचो।
आराम से बैठो और प्रतीक्षा करो।
जिन लोगों ने आपके साथ बुरा किया है,
अंत में उनके साथ भी बुरा ही होगा।

Karma Quotes in Hindi

पानी पृथ्वी का खून है,
इसे यु ही न बहाए।

कर्म पर भरोसा रखो अगर तुमने कभी
किसी के साथ कुछ गलत नहीं किया तो वह
कभी भी तुम्हारे साथ कुछ गलत नहीं होने देगा !

हमारे लिए #चींटी से बढ़कर और कोई
उपदेशक# नहीं है।
वह काम करती है और #खामोश रहती है।

परिस्थितियों को संभालने के लिए
कर्म बहुत नायाब तरीका है।
आपके बस आराम से बैठना है और देखना है।

भगवान ने हाथ किसी को लकीरें
दिखाने के लिए नहीं बल्कि,
अपनी मेहनत का जलवा
दिखाने के लिए दिए हैं।

जो कर्म में विश्वास रखता है
वहीं असली जिन्दगी जीता है!

सहर के इंतजार में है वो,
जो अंधेरे से प्यार करते थे।
एक मुद्दत से नहीं देखी है,
उन आंखों ने रोशनी,
जो कभी किसी की आंखों
के महताब हुआ करते थे।

आप जो चाहे कर सकते हैं,
वो आपके हाथ में हैं
लेकिन कर्मों का फल आपके हाथ में नहीं।

कर्म की चाबी से हर दरवाजा खुलता है
किस्मत के दरवाजे तो कभी कभी खुलते हैं !

कर्म के दर्पण में #व्यक्तित्व
का प्रतिबिंब# झलकता है.

आप जो भी क्रिया करोगे उसकी प्रतिक्रिया जरूर होगी।
यही ब्रह्मांड का नियम है और यही कर्मा है।
इस से किसी को नहीं बख्शा जाता।

वक़्त वक़्त की बात है,
कल तुम मेरे पास थे,
आज कोई और तुम्हारे साथ है,
फिर कोई और उसके साथ होगा,
और फिर तुम्हारा भी हाल मेरे जैसा होगा।

दुनिया में आपका नाम
याद नहीं रखा जाएगा
आपके कर्मो से
आपको याद किया जाएगा!

हिसाब रखो आपने अच्छे कर्मों के
साथ किये हुये बुरे कर्मों का भी…
ईश्वर उसके बदले भी तुम्हें कुछ देगा.!!

लोगों का आपके साथ कैसा व्यवहार है,
यह उनका कर्म है,
आप उनके साथ कैसा व्यवहार करते हैं
ये आपका कर्म है।

जीवन में अनंत सुख पाना है
तो कर्म पर ध्यान दो कर्म फल पर नहीं
वह अपने आप आपके कर्म के अनुसार
आपको प्राप्त हो जाएगा !

ये बात समय रहते ‘जान’ लीजिए।
माता पिता ही है
हमारे भगवान ये बात आप ‘मान’ लीजिए।।
करना है कुछ अच्छा इस जग के लिए
ये बात मन मे ‘ठान’ लीजिए।।।

हमने जो कर्म किए हैं,
उसका परिणाम हमारे पास आता ही जाता है,
आज,कल,सौ साल बाद,
या फिर सौ जन्म के बाद।

आज आप जो भी हो अपने
गुज़रे हुए कल की वजह से हो
और जो आप आने वाले कल में रहोगे
वो आपके आज के कर्मों पे निर्भर करेगा!

किसी से बदला लेने के लिए
कभी समय बर्बाद मत करो।
जो लोग आपको चोट पहुंचाते हैं
उन्हें अंत में कर्मों को भोगना पड़ता है।

व्यक्ति की सफलता का कारण
उसका भाग्य नहीं अपितु
उसके कर्म होते हैं।

भाग्य हमारे कर्म पर निर्भर करता है
हर कोई अपने भाग्य के लिए जिम्मेदार है!

अगर आप दुनिया को एक अच्छी चीज देते हैं,
तो समय के साथ आपका कर्म अच्छा होगा,
और आपको भी अच्छी चीज़ ही मिलेगी।

किसी ने आप के साथ बुरा किया है,
तो छोड़ दो उसे आगे बढ़ो,
उसका कर्म उसको सजा देगा।

काम करने से पहले सोचना बुद्धिमानी
काम करते हुए सोचना सतर्कता
और काम करने के बाद सोचना मूर्खता है!

कर्मा हमारे दिलों से ही शुरू होता है
और दिलों पर ही ख़तम हो जाता है।

कर्म एक ऐसा रेस्टोरेंट है जहा
कोई ऑर्डर देने की जरुरत नहीं है,
हमें वही मिलता है जो हमने पकाया है!

जो मासूम होते हैं उन्हें karma
इनाम का हक़दार बनाता है,
लेकिन जो विश्वासघाती होते हैं
उन्हें कर्मा नफरत का हकदार बनाता हैं..!

Read Also: संघर्ष पर प्रेरणादायी विचार

जिंदगी में किसी के साथ
अच्छा करो या बुरा करो,
अच्छे या बुरे में वापस आता ही हैं,
यही कर्म होता है।

सच्चे मन से किया गया कर्म
भगवान को ऋणी बनाता है
और भगवान उसे ब्याज सहित
वापस लौटाने के लिए मजबूर हो जाता है !

Bad Karma आजकल की
Instant Coffee तरह ही है,
आपको ज्यादा इन्तजार नहीं करना पड़ता।

कर्म करने पर ही तुम्हारा अधिकार है
फल में नहीं, तुम कर्मफल का कारण
मत बनो और अपनी प्रवृति कर्म करने में रखो!

कर्मा के अनुसार जिसे आप अपना कहते हैं
उन्हें धोखा देना सबसे दुखद,
घृणित और अपमानजनक बात है।

दूसरों के लिए दयालु बनिए
चाहे वो आपके लिए दयालु न हो!

कर्म के नियम से कोई नहीं बच सकता।
ये केवल जीवनकाल में ही नहीं,
बल्कि मृत्यु के बाद भी काम करता है।

कोई भी इंसान ऊँची जगह
पे बैठ कर ऊँचा नहीं होता
बल्कि अपने कर्मों से होता है!

Karma का समय तय है,
आपको बस इन्तजार करना है।
ये कभी खाली नहीं जाता,
कुछ न कुछ Payback देकर जाता है।

कर्म बीज के समान होता है
जैसा बीज किसान बोता है
वैसा ही फल पाता है !

भाग्य में और कुछ नहीं बल्कि हमारे
पुराने किए कर्मों का लेखा जोखा है।

आपकी हाथों की रेखाएं आपको वहां तक भेजेगी
जहाँ तक उसे जाना है, परन्तु आपके कर्म
आपको वहां तक ले जाएंगे जहाँ आपको जाना है!

आज जो भी कुछ हो रहा है वो कोई चमत्कार नहीं है।
ये अच्छा भी हो सकता है और बुरा भी हो सकता है।
यह इस बात पर निर्भर करता है
कि आपने अतीत में क्या किया है।

वर्तमान में अच्छा करो ताकि भविष्य में
आपके साथ बुरा न हो। यही कर्मा है।

जीवन में जैसा कर्म करोगे
उसका दोगुना लौटकर जरूर आएगा
वह परमात्मा है प्रत्येक कर्म का फल
ब्याज सहित लौटाता है !

हमारे साथ होने वाली हर चीज के
पीछे एक कारण है
और वो कारण कर्मा है।

लालच और अहंकार का घमंड
अच्छे कर्मो से हमे दूर कर देते है!

कोई भी चीज सीधी रेखा में नहीं चलती,
बात चाहे दिल की धड़कन की
हो या फिर कर्म की ।

कर्म इंसान को इस तरह ढूंड लेता है
जैसे गाय का बच्चा हज़ारों गायों के बीच
खुद की माँ को ढूंड लेता है!

कुछ लोग पूछते हैं
कि सफलता का राज क्या है,
मैं सीधे शब्दों में कहता हूँ

कर्म ना ही पूछता और ना ही बताता है
सीधा दस्तक देता है क्यूंकि
कर्म चेहरा और पता दोनों ही नहीं भूलता!

किसी को प्यार में धोखा दोगे,
तो आपका karma भी
आपको धोखा ही देगा

अपने कर्म को सलाम करो
दुनिया तुम्हे सलाम करेगी
यदि कर्म को दूषित रखोगे तो
हर किसी को सलाम करना पड़ेगा!

आपके द्वारा किए गए कर्मों का फल
आपको सूत सहित मिलेगा
आपके कर्म चाहे अच्छे हो या बुरे हो !

किसी दिन लोग मुझसे पूछेंगे
कि मेरी सफलता की कुंजी क्या है
और मैं बस कहूंगा “अच्छा कर्म”!

हर व्यक्ति को उसके कर्म करने
की पूरी आज़ादी है लेकिन कर्म के
परिणामों में चुनाव उसके हाथ में नही!

ज़िन्दगी मिलना नसीब पर निर्भर है
मौत आना वक़्त पर निर्भर है लेकिन
मौत के बाद भी लोगों के दिलों में याद रहना
हमारे कर्मों पर निर्भर है!

कर्म का सारा दारोमदार
अपने कन्धों पर रखो
और फल का सारा दारोमदार
ऊपर वाले पर छोड़ दो!

इंसान की इज़्ज़त सिर्फ
उसके कर्मों से होती है
वरना मेहेंगे कपडे तो
पुतले भी पेहेनते है दुकानों में!

बुरे कर्म करने नहीं पड़ते हैं
हो जाते हैं और अच्छे
कर्म होते नहीं करने पड़ते हैं!

चेहरे की खूबसूरती एक वेहेम है
सबसे ख़ूबसूरत तो हमारे कर्म है
चाहे तो वो दिल जीत ले या फिर दिल चीर दे!

कर्म ज़िन्दगी का ज़रूरी विषय है
लफ़्ज़ों के बदलने से भले ही
बात समझ में नहीं आती
लेकिन सच में हर इंसान
कर्म से ही जाना जाता है!

फल प्राप्ति के लिए केवल
सब्र करना आवशयक नहीं है
अपितु कर्म करना भी आवश्यक है!

Read Also

स्वार्थ पर कोट्स

UPSC IAS मोटिवेशनल कोट्स

हार्ट टचिंग कोट्स

जिंदगी की सच्ची बातें

Leave a Comment